पूर्णिया:राष्ट्रीय किसान मोर्चा के तत्वाधान में बनमनखी अनुमंडल क्षेत्र के किसानों का केंद्र सरकार के विरोध में प्रदर्शन

न्यूज़/डेस्क/आवाज़24/ पूर्णिया, बनमनखी, राष्ट्रीय किसान मोर्चा के तत्वाधान में बनमनखी अनुमंडल क्षेत्र के किसानों का प्रदर्शन का आयोजन किसान संघर्ष समन्वय समिति के अध्यक्ष बहुजन क्रांति मोर्चा के प्रमंडलीय प्रभारी प्रोफेसर आलोक कुमार के नेतृत्व में हुआ।

प्रदर्शनकारी किसान अपने अनाज मक्का धान एवं गेहूं को भारत सरकार द्वारा निर्धारित एम०एस०पी (न्यूनतम समर्थन मूल्य ) पर मक्के के बोरे के साथ ट्रैक्टर लेकर अनुमंडल कार्यालय परिसर में पहुंचे। ज्ञात हो कि वर्ष 2021-22 के लिए निर्धारित एमएसपी 1870 रुपया प्रति कुंतल ,धान के लिए 1940 रुपया एवं गेहूं के लिए 1975 रुपया निर्धारित किया गया है।

जानकीनगर बनमनखी क्षेत्र के साथ- साथ सीमांचल क्षेत्र में आज तक किसानों के अनाज की खरीद एमएसपी पर नहीं हुई है। राज्य सरकार द्वारा बिहार में सरकारी मंडी समाप्त किए जाने के बाद पैक्सो, व्यापार मंडलों द्वारा किसानों के नाम पर व्यापारियों से धान एवं गेहूं की एमएसपी पर खरीद कर राज्य सरकार के द्वारा लक्ष्य प्राप्ति का प्रति वर्ष ढिंढोरा पीटा जाता है। 500 से 1000 प्रति कुंटल कम दर पर किसान अनाज बेचने को मजबूर है।अपने 3 सूत्री मांगों का जिला पदाधिकारी पूर्णिया के नाम ज्ञापन अनुमंडल पदाधिकारी बनमनखी को किसानों के प्रतिनिधि मंडल के द्वारा सौंपा गया।

एमएसपी को कानूनी गारंटी देने, केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन काला कृषि कानून की वापसी, के साथ-साथ समय पर सरकारी एजेंसी पैक्स एवं व्यापार मंडल से किसानों के मक्का, धान, गेहूं की खरीद करने जैसे मांग शामिल है।

प्रतिनिधिमंडल में किसान संघर्ष समन्वय समिति के अध्यक्ष प्रोफेसर आलोक कुमार, बनमनखी अनुमंडल किसान संघर्ष मोर्चा के संयोजक सुभाष प्रसाद सिंह, सहसंयोजक प्रोफेसर सुधीर यादव, जय कांत दास, उमेश यादव, नित्यानंद पासवान, अनिरुद्ध मेहता, संजीव यादव, कुमार साहब, रामकृष्ण मानस, सच्चिदानंद यादव, रमन कुमार यादव, बमबम कुमार भारती, चंदन कुमार भारती, मनीष कुमार, नीतीश कुमार, मुकेश कुमार आदि किसान नेता शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed