बिहार: कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए एहतियात हीं रामबाण : उदय सिंह

न्यूज़/डेस्क/आवाज़24/बिहार, कोरोना महामारी की तीसरी लहर से बचाव का एहतियात ही रामबाण है उक्त बातें पूर्णिया के पूर्व सांसद उदय सिंह उर्फ पप्पू सिंह ने कही । पूर्व सांसद उदय सिंह उर्फ पप्पू सिंह ने कोरोना की आने वाली तीसरी लहर के लिये एहतियात पर जोर देते हुए कहा कि जब कभी भी किसी बड़े त्रासदी के बाद थोड़ी सी भी राहत मिलती है तो सबों को लगने लगता है कि अब सब कुछ ठीक हो गया है। यही हाल पूरे देश में कोरोना की बड़ी मार झेलने के बाद लोगों को महशूस हो रहा है लेकिन ऐसा नही है।

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस गया नही है बल्कि और भी विकराल रूप में अपना सर उठा रहा है। ऐसे मे भगवान न करे कि फिर से बीमारी तेजगति से बढ़े। परन्तु यदि ऐसा होता है तो पिछली बार से भी ज्यादा भयावह और दर्दनाक स्थिति उत्पन्न हो सकती है। श्री सिंह ने कहा कि इससे निपटने का एक उपाय तो वेक्सीन है परन्तु बिना किसी पर ऊँगली उठाये हुए यह कहना उचित होगा कि 134 करोड़ की आबादी के लिए 270 करोड़ वेक्सीन तत्काल मिलना कठिन है। इसलिए हमें मानकर चलना चाहिए कि जितनी भी तेजगति से टीकाकरण हो परन्तु इसमे समय तो लगेगा। वैसे भी जिन देशों में टिकाकरण तेजगति से हुई है वहाँ भी नये क़िस्म का कोरोना वायरस पैर फैला रहा है। ऐसे में बचाव की सारी जिम्मेदारी हमे अपने-आप हीं उठानी है। श्री सिंह ने कहा कि सरकार से हम बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था की अपेक्षा तो कर सकते हैं, परन्तु बीमारी से हमे बचाना किसी भी सरकार के लिए सम्भव नही है।

उन्होंने कहा कि वे देख रहे हैं कि हर जगह लोग बे-ख़ौफ़ घूम रहे हैं बल्कि अपने आपको बचाने का कोई रास्ता नही अपना रहे हैं।पूर्व सांसद ने कहा कि हम सबों को अपने-अपने परिवार और समाज के प्रति इस तरह लापरवाह नही होना चाहिए। उन्होंने सभी लोंगो से अपील की है कि मास्क पहने, सामाजिक दूरी बना कर रखें और थोड़ी सी भी तबीयत खराब होने पर चिकित्सक से सम्पर्क करें। श्री सिंह ने कहा कि उनके द्वारा पर्याप्त मात्रा में प्रभावी दवाइयां हर पंचायत में उपलब्ध करा दी गई है जिसका उचित प्रयोग किया जा सकता है परन्तु एहतियात हीं रामबाण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed